उत्तराखंड

पतंजलि की मदद से मेला बेस अस्पताल कोविड केयर सेंटर में तब्दील

हरिद्वार सहित आसपास के क्षेत्रों में लगातार बढ़ते कोरोना संक्रमित मरीजों की सुविधा के लिए प्रदेश सरकार ने पतंजलि के सहयोग से मेला बेस अस्पताल को कोविड केयर हेल्थ सेंटर में तब्दील कर दिया है। ऑक्सीजन सपोर्टेड इस अस्पताल में 150 मरीजों का एक साथ उपचार किया जा सकेगा। पतंजलि इस अस्पताल का संचालन करने के साथ यहां आईसीयू सहित कई जरूरी व्यवस्थाओं को जुटाएगी। मंगलवार को सीएम तीरथ सिंह रावत और योगगुरु बाबा रामदेव ने भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक व शहरी विकास मंत्री बंशीधर भगत की मौजूदगी में अस्पताल का उद्घाटन किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि इस हॉस्पिटल में हरिद्वार के अलावा आसपास के जनपदों और उत्तराखंड से सटे यूपी के जनपदों के कोरोना मरीजों को भी भर्ती किया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि राज्य में रेमडेसिविर सहित वेंटीलेटर की कोई कमी नहीं है।

बाबा रामदेव ने कहा कि अति गंभीर कोरोना मरीजों का भी यंहा पर प्राकृतिक और आयुर्वेद दवाओं से उपचार किया जाएगा। मगर बहुत गंभीर हालत में ही जरूरत पड़ने पर मरीज को रेमडेसिविर, स्टेरॉयड अथवा एंटीबायोटिक दिए जाएंगे। बताया कि एक हफ्ते में ही हॉस्पिटल में अच्छे परिणाम दिखाई देंगे और हमारी कोशिश जीरो मृत्यु दर के साथ 99 .9 प्रतिशत रिकवरी दर देने की होगी। इस अस्पताल में कोरोना मरीजों के लिए फिलहाल ऑक्सीजन सपोर्ट उपलब्ध है लेकिन ज्यादा क्रिटिकल मरीजों के लिए भी जल्द ही जरूरी सुविधाएं मुहैया कराई जाएंगी। उद्घाटन अवसर पर मुख्य रूप से आचार्य बालकृष्ण, मेयर अनिता शर्मा, विधायक आदेश चौहान, जिलाधिकारी सी रविशंकर, एसीपी सेंथिल अवूदई सहित काफी संख्या में लोग उपस्थित रहे।