उत्तराखंड

ईद के लिए सजने लगा बकरों का ‘व्हाट्सएप’ बाजार, ऑनलाइन बिक्री हुई शुरू

रामनगर में कोरोना ने बकरीद की कुर्बानी पर भी करारा वार किया है। नगर की सीमाएं सील होने के चलते दूसरे जिलों के बकरे नहीं आ पा रहे हैं। ऐसे में व्हाट्स अप पर बकरा बाजार सज गया है।

बकरा बाजार नहीं लगने से विक्रेताओं ने व्हाट्सएप ग्रुप बनाया है, जिसमें बकरों का विवरण और तस्वीरें डालकर ऑनलाइन बिक्री शुरू कर दी गई है। हालांकि इस कवायद में बकरों के रेट बीते साल से दो गुने तक पहुंच गए हैं।

रामनगर में गैस गोदाम रोड पर बकरों और बड़े जानवरों की बिक्री होती रही है। मगर कोरोना मामले बढ़ने के बाद रामनगर की सीमाएं सील हैं। अब तक विक्रेता पहाड़ी जिलों के साथ काशीपुर, जसपुर आदि से बकरे लाते थे।

मगर इस बार कोई भी व्यक्ति बिना पास नहीं आ जा पा रहा है। ऐसे में रामनगर में बकरों की बिक्री ऑनलाइन शुरू हो गई है, जिसमें यहां उपलब्ध बकरों के दाम काफी अधिक हैं।

विक्रेता राशिद, जुबैद और सलमान ने बताया कि वह वर्षों से कुर्बानी के लिए बकरों की बिक्री करते आए हैं। इस बार मजबूरन छह हजार का बकरा 13 से 14 हजार रुपये तक में बिक रहा है।