उत्तराखंड

बारात लेकर पहुँचा दूल्हा शादी भी हुई लेकिन नही हो सकी विदाई आखिर क्या रही वजह

कोरोनाकाल में पहाड़ में शादियों का सीजन जोरों पर है। पहले अल्मोड़ा में पीपीई किट पहनकर शादी की गई, अब चंपावत में भी पीपीई किट पहनकर शादी संपन्न हुई। यहां शादी से एक दिन पहले दुल्हन कोरोना पॉजिटिव मिली तो शनिवार को बारात आयी। पीपीई किट में प्रशासन की मौजूदगी में दूल्हा-दुल्हन ने सात फेरे लिए। शादी के बाद दुल्हन व उसके परिवार को 17 दिन क्वारंटीन पर रखा गया है। 17 दिन के बाद सैंपलिंग होगीं।। इसके बाद अगर निगेटिव रिपोट्र आती है तो दुल्हन की विदाई की जाएगी। वहीं शादी के बाद बारात वापस चली गई।

दरअसल चंपावत के बेलखेत निवासी सीमा बोहरा पुत्री दीवान सिंह बोहरा की शादी ऊधमसिंह नगर चकरपुर खटीमा निवासी पंकज अधिकारी पुत्र जोत सिंह से तय हुई। शनिवार को विवाह होना था। पांच दिन पहले स्वास्थ्य विभाग की टीम बेलखेत क्षेत्र से लोगों की सैंपलिंग ले गई थी जिसमें दुल्हन भी शामिल थी। गुरुवार को यहां 32 लोग कोरोना पॉजिटिव निकले तो गांव में हडक़ंप मच गया। क्योंकि दुल्हन भी कोरोना पॉजिटिव थी। परिजनों ने इसकी सूचना प्रशासन को दी कि शनिवार को शादी है। जिसके बाद प्रशासन की अनुमति लली गई अन्य रिश्तेदारों के शादी में आने पर रोक लगाई गई और पीपीई किट पहनकर शादी का निर्णय लिया गया।