उत्तराखंड

कुंभ: शाही स्नान के दिन शहरभर में नहीं घुम पाएंगे श्रद्धालु,जानिए क्या होगी व्यवस्था

हरिद्वार में कुंभ के शाही स्नान के दिन श्रद्धालु शहर के एक कोने से दूसरे कोने तक आवाजाही नहीं कर सकेंगे। स्नान के लिए आने वाले श्रद्धालुओं को पार्किंग के पास के घाटों पर गंगा स्नान कराया जाएगा। इसके लिए बैरागी द्वीप के सामने दो किलोमीटर लंबा अस्थाई घाट बनाने की तैयारी शुरू कर दी है। आगामी 12 और 14 अप्रैल को होने वाले शाही स्नान के मद्देनजर पांच दिन के लिए यह व्यवस्थाएं की जा रही हैं। इन पांच दिनों में चमगादड़ टापू और दीनदयाल उपाध्याय पार्किंग बंद रहेंगी। भीड़ प्रबंधन को देखते हुए पुलिस ने व्यवस्था बनाई है कि यात्रियों को शहर के एक कोने से दूसरे कोने तक नहीं जाने दिया जाए।

दिल्ली से हरिद्वार आने वाले यात्रियों को वाया लक्सर बैरागी कैंप होते हुए दक्षद्वीप के पास बनी पार्किंग में लाया जाएगा। इनको यहीं से स्नान कर वापस भेजा जाएगा। चिड़ियापुर की ओर से आने वाले श्रद्धालुओं को गौरीशंकर पार्किंग में आगे नहीं जाने दिया जाएगा। दून की ओर से आने वाले श्रद्धालुओं को सप्तऋषि पर स्नान कराया जाएगा। शाही स्नान के वक्त हरकी पैड़ी पर श्रद्धालुओं का स्नान प्रतिबंधित होता है। इस संबंध में आईजी मेला संजय गुंज्याल ने बताया कि पुलिस का प्रयास है कि श्रद्धालुओं को पार्किंग के पास ही स्नान कराया जाए। इसके लिए अस्थाई घाटों का निर्माण भी किया जा रहा है।