स्पेशल

Credit Score जीरो है तो घबराने की कोई बात नहीं, आप पा सकते हैं Loan

सिबिल स्कोर 300 से 900 के बीच का एक नंबर होता है, जो वित्तीय संस्थानों के साथ आपके लेनदेनों पर आधारित होता है। सिबिल स्कोर जितना उच्च होता है, आपको लोन मिलने की संभावना उतनी ही बढ़ जाती है और शर्तें भी उतनी ही आसान हो जाती हैं। अगर आपने पहले कभी कोई लोन या क्रेडिट कार्ड नहीं लिया है, तो आपका क्रेडिट स्कोर शून्य हो सकता है।

अगर क्रेडिट ब्यूरो के पास उपलब्ध आपकी क्रेडिट हिस्ट्री छह महीने से कम समय की है, तो क्रेडिट स्कोर -1 भी हो सकता है। नए उधारकर्ताओं के लिए सिबिल एक से पांच के बीच में स्कोर देता है। स्कोर के कम होने पर ऋणदाता के दृष्टिकोण से आपको ऋण देने का जोखिम बढ़ जाता है। टैक्स एवं निवेश विशेषज्ञ बलवंत जैन के अनुसार, ग्राहक को कोई भी क्रेडिट सुविधा प्रदान करने से पहले ऋणदाता खुद को संतुष्ट करना चाहता है कि उधारकर्ता लोन को नियत समय में चुका देगा।

क्रेडिट इन्फॉर्मेशन ब्यूरो क्रेडिट स्कोर के माध्यम से ऋणदाताओं की इस समस्या का समाधान करता है। क्रेडिट इन्फॉर्मेशन ब्यूरो उधारकर्ता द्वारा अतीत में किये गए क्रेडिट व्यवहार के आधार पर क्रेडिट स्कोर जारी करता है, जिससे ऋणदाताओं को ग्राहक के डिफॉल्ट होने की संभावना का पता लगता है। क्रेडिट स्कोर विभिन्न मापदंडों की मदद से सॉफ्टवेयर द्वारा तैयार किया जाता है।