राष्ट्रीय

कोरोना: उत्तर प्रदेश के 19 जिले रेड जोन में, अब तक 2262 पहुंची मरीजों की संख्या

 उत्तर प्रदेश में कोरोना मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। अच्छी बात ये है कि सरकार इस रोकने की भरसक कोशिशें कर रही है। शुक्रवार को केंद्रीय गृह मंत्रालय ने अपनी एक रिपोर्ट जारी की है। इस रिपोर्ट के मुताबिक उत्तर प्रदेश के 19 जिले रेड जोन में रखे गए हैं, जबकि दिल्ली के सभी 11 जिले रेड जोन में हैं। रिपोर्ट के मुताबिक देश में 130 जिले रेड जोन में, 284 जिले ऑरेंज जोन में  और 319 जिले ग्रीन जोन में शामिल किए गए हैं।

कोरोना वायरस के संक्रमण ने उत्तर प्रदेश में सर्वाधिक नुकसान ताजनगरी आगरा को पहुंचाया है। विश्व के सात अजूबों में शामिल आगरा के ताजमहल के दीदार को आने वालों ने इस शहर को जानलेवा संक्रमण दिया है। आगरा में कोरोना पॉजिटिव की संख्या 506 हो गई है। आगरा में ही सर्वाधिक 15 लोगों की मौत हो गई है। प्रदेश में कोरोना के कहर से 41 लोगों की मौत हो गई है जबकि 2262 लोग पॉजिटिव हैं।

अभी तक प्रदेश भर में कोरोना संक्रमित मरीजों की कुल संख्या 2262 है और इसमें तब्लीगी जमात वाले 1143 हैं। उधर प्रदेश भर में आगरा में सर्वाधिक 506 मरीज हैं, दूसरे नंबर पर लखनऊ में 230 मरीज व तीसरे नंबर पर कानपुर में 210 मरीज हैं। प्रदेश में 74864 व्यक्तियों की रिपोर्ट निगेटिव आई है जबकि  938 की रिपोर्ट आनी अभी बाकी है। यूपी में अभी तक 78013 लोगों के नमूने जांच के लिए लैब भेजे जा चुके हैं।

प्रदेश में कुल मृतकों की संख्या 41 हुई

प्रदेश में कोरोना वायरस के कहर से मरने वालों की संख्या 41 पहुंच गई है। गुरुवार को आगरा में एक पुरुष तथा अमरोहा में एक महिला की मौत हो गई। यूपी में कोरोना से मौतों का आंकड़ा 41 पहुंच गया। इनमें सर्वाधिक 15 मौत आगरा में हुई है। मुरादाबाद में छह, मेरठ में पांच, कानपुर में चार, फिरोजाबाद में दो और अमरोहा, बरेली, बस्ती, बुलंदशहर, लखनऊ, अलीगढ़, मथुरा, वाराणसी व श्रावस्ती का एक-एक व्यक्ति शामिल है।

किंग जार्ज मेडिकल कॉलेज, लखनऊ से शुक्रवार को सैंपल रिपोर्ट मिली है। जिनमें 18 पॉजिटिव केस हैं। इनमें आगरा के दस, लखनऊ के सात तथा उन्नाव का एक पॉजिटिव है। इनके साथ बांदा में तीन, संतकबीर नगर में दो तथा मेरठ व सहारनपुर में भी एक-एक केस पॉजिटिव है।

कहां कितनी पहुंची संक्रमितों की संख्या

आगरा में आज के दस तथा कल देर रात के 17 मिलाकर 27 नए केस और मिले है। इसके बाद कुल रोगी 506 हो गए है। आगरा के बाद राजधानी लखनऊ में भी कोरोना संक्रमण का असर काफी व्यापक है। दोनों जगह पर तीन दर्जन हॉटस्पॉट बनाने के बाद भी संक्रमितों की संख्या में इजाफा जारी है।

बांदा में शुक्रवार को 72 सैंपल की रिपोर्ट में तीन और कोरोना पॉजिटिव मरीज पाए गए हैं। इनमें एक बांदा शहर के मर्दन नाका दूसरा मवाई हुआ तीसरा गिरवा गांव का रहने वाला है। बांदा में कुल संक्रमितों की संख्या सात हो गई है। मंडलायुक्त गौरव दयाल ने बताया कि इन सात मरीजों में तीन पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं।

संत कबीरनगर में शुक्रवार को में दो और कोरोना पाजिटिव मिले है। अब संख्या 25 हो गई है। यहां के मेहदावल तहसील क्षेत्र के निधुरी गांव के दो लोग महाराष्ट्र से ट्रक से चलकर 28 अप्रैल को जिला अस्पताल पहुंचे थे। इनको चिकित्साको ने जांच के बाद जिला अस्पताल में बने आइसोलेशन वार्ड में भर्ती करवा दिया था। दोनों के स्वाब का नमूने 29 अप्रैल को गोरखपुर मेडिकल कालेज में जांच के लिए भेजे गए थे। बीती रात दोनों युवकों की रिपोर्ट पाजिटिव आई। जिला सॢवसलांस अधिकारी डॉ. एके सिन्हा ने बताया कि दोनों को सीएचसी खलीलाबाद में आइसोलेट करवा दिया गया है।

गुरुवार का 1791 संदिग्ध मरीजों को अस्पताल में भर्ती करवाया गया। अब तक प्रदेश में कुल 61 जिलों में कोरोना का संक्रमण फैल चुका है लेकिन आठ जिलों को कोरोना मुक्त घोषित किया जा चुका है। ऐसे में अब 53 जिलों में कोरोना पाजिटिव मरीज हैं। सर्वाधिक 479 मरीज आगरा में हैं। वहीं राहत देने वाली बात यह रही कि 41 और मरीज स्वस्थ हुए। ऐसे में अभी तक सूबे में 551 मरीज स्वस्थ होने के बाद अस्पताल से घर भेजे जा चुके हैं।

गुरुवार को जो 82 नए मरीज मिले उनमें सर्वाधिक 46 मामले आगरा के हैं। इसके अलावा कानपुर में तीन, वाराणसी में आठ, गाजियाबाद में पांच, मेरठ में तीन और लखनऊ व जौनपुर में तीन-तीन मामले, प्रतापगढ़ में दो व बस्ती, बुलंदशहर, बिजनौर, गोरखपुर, देवरिया, झांसी, फिरोजाबाद, व प्रयागराज व गौतमबुद्धनगर में एक-एक मामले पाये गए हैैं। उधर गुरुवार को जिन 41 मरीजों को स्वस्थ होने के बाद अस्पताल से छुट्टी दी गई उनमें गाजियाबाद के 13, लखनऊ में 12, नोएडा में सात और सीतापुर, शामली व मेरठ में तीन-तीन मरीज शामिल थे। अब तक कुल 551 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं।