उत्तराखंड

उत्तराखंड : देश के सबसे लंबे सस्पेंशन ब्रिज का सीएम त्रिवेंद्र ने किया लोकार्पण

उत्तराखंड के 21वें स्थापना दिवस की पूर्व संध्या पर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने देश का सबसे लंबा सस्पेंशन ब्रिज डोबरा चांठी जनता को समर्पित कर दिया। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने कहा कि, पुल बनने से प्रतापनगर की जनता का वनवास खत्म हो गया है। पुल से प्रतापनगर के विकास के द्वार खुल गये हैं। इससे पर्यटन और तीर्थाटन को मजबूती मिलेगी।

मुख्यमंत्री ने मौके पर उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि प्रताप नगर की जनता ने देश हित में बहुत बड़ा योगदान दिया है। जिससे पूर्वी उत्तर प्रदेश तक सिंचाई की उपलब्धता एवं निर्बाध बिजली आपूर्ति संभव हो सकी है। उन्होंने पुल निर्माण में देरी के लिए खेद व्यक्त करते हुए कहा कि मेरी सरकार एकमुश्त 88 करोड़ की धनराशि स्वीकृत कर निर्माण कार्यों में तेजी लायी।

14 साल में बना तीन अरब का पुल
यह पुल तीन अरब की धनराशि से चौदह साल की लंबी अवधि में बनकर तैयार हुआ है। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने चार अरब तिहत्तर करोड़ की साठ योजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास किया और इंटर कालेज माजफ के प्रान्तीयकरण की घोषणा की।

विधायक ने कहा, कालापानी की सजा खत्म हुई
इस मौके पर क्षेत्रीय विधायक विजय पंवार ने कहा की सीएम त्रिवेंद्र रावत ने एक मुश्त 88 करोड़ देकर प्रतापनगर की जनता की काला पानी की सजा खत्म की है।

दुनिया को आकर्षित करेगी टिहरी झील
सीएम बोले, 42 वर्ग किमी. में फैली लंबी टिहरी झील में पूरी दुनिया को आकर्षित करने की क्षमता है। डोबरा चांठी पुल के बनने से क्षेत्र पर्यटकों की पसंद बनेगा। उन्होंने कहा कि, प्रदेश में एक हजार नर्सों की भर्ती की जा रही है। 700 डाक्टरों को और तैयार करने का काम किया जा रहा है।