उत्तराखंड

उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में खुला प्रदेश का पहला बाल मित्र थाना

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने देहरादून में प्रदेश के पहले बाल मित्र थाने का शुभारंभ किया है। राजधानी स्थित डालनवाला थाने में सीएम ने बाल मित्र थाने का उद्धघाटन किया है। सीएम ने थाने के लिए एक करोड़ रुपये की धनराशि देने की भी घोषणा की है। बाल मित्र थाने में बाल आयोग के सदस्य वकील व बेहतर काउंसलर उपलब्ध होंगे जो बच्चों की काउंसलिंग कर उन्हें अपराधों से दूर रखने की कोशिश करेंगे। थानों में आने वाले बच्चाें को बहुत ही ज्यदा सौहार्द माहौल मिलेगा।

यहीं नहीं, बिना किसी भय के बच्चों की बहुत ही प्यार से काउंसलिंग भी की जाएगी। थाने के सफल प्रयास के बाद उत्तराखंड पुलिस प्रदेश के अन्य जिलों में भी बाल मित्र थाने को खोलने पर विचार कर रही है।  डीजीपी अशोक कुमार का कहना है कि बाल मित्र थाना एक बहुत अच्छा कदम है जबकि, एसएसपी डॉ. योगेंद्र सिंह रावत ने कहा कि इससे बच्चों में अपराध करने की प्रवृति पर रोक लगाना आसान होगा।  उत्तराखंड बाल अधिकार संरक्षण आयोग अध्यक्षा उषा नेगी ने कहा कि आयोग की ओर से विगत कई सालों से बाल मित्र थाने को खोलने की मांग उठाई जा रही थी।