राष्ट्रीय

लॉकडाउन 5.0: इन 13 शहरों में सख्त हो सकते हैं नियम, मॉनिटरिंग भी बढ़ेगी

कोरोना लॉकडाउन-4 की अवधि रविवार को समाप्त हो रही है। ऐसे में संभावना है कि लॉकडाउन-5 जो होगा उसमें देश के 13 शहरों के लिए कड़े दिशानिर्देश जारी हो सकते हैं। अधिकारियों ने संकेत दिया है कि देश के 70 फीसदी मामले इन शहरों से ही हैं। यह संकेत गुरुवार को हुई दो बैठकों के बाद आए हैं। पहली बैठक की अध्यक्षता केंद्रीय कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने की और दूसरी केंद्रीय मंत्री अमित शाह ने की।

लॉकडाउन बढ़ाने के लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय की ओर से जारी किए जाने वाले दिशानिर्देश में राज्यों को उनकी आवश्यकता के अनुसार सख्त उपाय करने की शक्तियां देंगे, लेकिन उन्हें केंद्र द्वारा जारी किए गए गाइडलाइन्स का पालन करना होगा। शहरी इलाकों में कोविद-19 के प्रबंधन के लिए केंद्र की ओर से कुछ दिशानिर्देश पहली ही जारी कर दिए गए हैं। न्यूज एजेंसी पीटीआई के अनुसार नए निर्देश को जारी उनके केंद्र में हाई रिस्क फैक्टर्स, पुष्टि दर, मृत्यू दर, डबलिंग रेट और प्रति मिलियन लोगों पर टेस्ट जैसी बातों का ध्यान रखा जा सकता है।

कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए देशव्यापी लॉकडाउन की घोषणा पहली बार 24 मार्च को तीन सप्ताह के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने की थी। फिर इसे 3 मई तक और फिर 17 मई तक बढ़ाया गया था। चौथी बार इसे बढ़कार 31 मई तक कर दिया गया।

जिन 13 शहरों में लॉकडाउन के नियम और कड़े करने के संकेत मिले हैं उनमें सभी महानगर शामिल हैं। महाराष्ट्र और तमिलनाडु के तीन और राजस्थान के दो शहर हैं। सभी महानगरों को भारत के 13 सबसे हिट क्षेत्रों की केंद्र की सूची में शामिल किया गया है। और, महाराष्ट्र और तमिलनाडु के तीन शहर हैं, राजस्थान के दो शहर हैं।

ये हैं वो शहर जहां कड़े हो सकते हैं लॉकडाउन-5 के नियम

  • मुंबई
  • चेन्नई
  • दिल्ली
  • अहमदाबाद
  • ठाणे
  • पुणे
  • हैदराबाद
  • कोलकाता हवाड़ा को मिलाकर
  • इंदौर
  • जयपुर
  • जोधपुर
  • चेंगलपट्टू
  • थिरूवल्लूर