क्राइम

करंट की चपेट में आने से मजदूर की मौत

स्थानीय ओपी क्षेत्र के लकड़ी गांव में करंट की चपेट में आए एक मजदूर की मौत हो गयी। मृतक बड़ी लकड़ी गांव के परगण भगत का पुत्र संजय प्रसाद था। पुलिस सूत्रों ने बताया कि शुक्रवार को मजूदर लकड़ी गांव के फारुख अंसारी के यहां सिरसोप्ता बनाने के लिए राजमिस्त्री के साथ काम करने के लिए गया था। काम समाप्ति के बाद वह मोटर के समीप हाथ पैर धो रहा था। इसी क्रम में करंट की चपेट में आ गया। हादसे में गंभीर रूप से जख्मी होने पर उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया। इधर घटना के बाद मृतक के शव को वाहन से ले जाकर गृहस्वामी उसके घर पर फेंक कर भाग गए।

इसके बाद मृतक के परिजन आनन-फानन में स्थानीय अस्पताल ले गए। जहां चिकित्सकों ने देखते ही उसे मृत घोषित कर दिया। बदहवास परिजन मृतक की हत्या का आरोप लगाते हुए विरोध जताने लगे। मौके पर पहुंची पुलिस ने मृतक के शव का पंचनामा बनाकर पोस्टमार्टम के लिए सीवान भेज दिया है। मृतक के बड़े भाई विजय प्रसाद के आवेदन पर मकान मालिक फारूक अंसारी और राजमिस्त्री सिराज खान के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है।

जमीनी विवाद में जानलेवा हमला

पचरुखी। थाना के आलापुर गांव में शुक्रवार की शाम पुरानी रंजिश को लेकर मारपीट हुई। इस मामले में रणजीत कुमार सिंह के बयान पर एफआईआर दर्ज की गई है। जिसमें ब्रजेश कुमार सिंह, बिरेश कुमार, शुभम सिंह सहित आधा दर्जन लोगों पर जान मारने के नीयत से हमला करने, चोरी व छेड़खानी का आरोप लगाया गया है। पुलिस ने आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी शुरू कर दी है।