उत्तराखंड

कांवड़ यात्रा रद होने पर बिफरे व्यापारी,कांवड़ यात्रा निकाल यात्रा शुरू करने की मांग

श्री गुरु गोरक्षनाथ व्यापार मंडल से जुड़े व्यापारियों ने शुक्रवार को कांवड़ लेकर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। व्यापारियों ने अपर बाजार में कांवड़ यात्रा निकालकर सरकार से कांवड़ यात्रा को शुरू कराने की मांग की। कोरोना संकट के चलते उत्तराखंड सरकार ने साथ लगते तीन राज्यों के मुख्यमंत्री से बातचीत के बाद कांवड़ यात्रा को रद करने का फैसला लिया था।

श्री गुरु गोरक्षनाथ व्यापार मंडल के पूर्व अध्यक्ष संजय त्रिवाल ने कांवड़ मेला सकुशल संपन्न करवाने की मांग की है। उनका कहना है कि सरकार जब देश के कई मंदिरों पर रजिस्ट्रेशन व्यवस्था लागू कर श्रद्धालुओं को दर्शन करा सकती है तो उसी तर्ज पर रजिस्ट्रेशन कराकर कावड़ मेला संपन्न करवाया जा सकता है।

उनका कहना है कि ऐसा इसलिए जरूरी है कि हरिद्वार का अधिकांश व्यापारी कांवड़ मेले पर ही निर्भर है। गोरक्षनाथ व्यापार मंडल के महामंत्री विशाल गोस्वामी ने कहा कि सरकार को अपनी व्यवस्थाओं के अनुसार कावड़ियों को जल भरवाकर वापसी उनके गंतव्य तक भेज सकती है।

उन्होंने कहा कि जब तक हमें कोरोना की वैक्सीन नहीं मिल जाती तब तक हमें कोरोना के साथ ही जीना होगा और चलना होगा। कहा कि हरिद्वार का व्यापारी आर्थिक रूप से पूरी तरह टूट चुका है, उसके सामने कई समस्याएं खड़ी हो चुकी हैं। ऐसे में कांवड़ मेला होना जरूरी है।