राष्ट्रीय

Jio, Airtel और Vi यूजर्स कैसे पाएं e-Sim, किन फोन्स पर करेगा काम? जानें पूरा प्रोसेस

इन दिनों आपने कई जगह eSIM का जिक्र सुना होगा। ई-सिम यानी इम्बेडेड सब्सक्राइबर आईडेंटिटी मॉड्यूल (Embedded Subscriber Identity Module). रिलायंस जियो, एयरटेल और वोडाफोन तीनों ही कंपनियां ई-सिम की सुविधा दे रही हैं। Google Pixel 2 ऐसे पहले स्मार्टफोन्स में से एक था, जिसमें ई-सिम का फीचर मिलता था। iPhone Xr के बाद आने वाले एप्पल मॉडल्स भी ई-सिम सपोर्ट करते हैं। तो आइए जानते हैं क्या है ई-सिम और आप इन्हें कैसे पा सकते हैं।

दरअसल ई-सिम स्मार्टफोन में लगने वाला एक वर्चुअल सिम होता है। यानी इसे फिजिकल सिम की तरह फोन में लगाने की जरूरत नहीं पड़ती। यहां तक कि इनके लिए फोन में कोई स्लॉट भी नहीं होता। हालांकि इसमें सुविधाएं फिजिकल सिम जैसी ही मिल जाती हैं। खास बात यह है कि ऑपरेटर बदलने पर आपको सिम कार्ड भी बदलने की जरूरत नहीं पड़ती।

भारत में एप्पल, सैमसंग, गूगल और मोटोराले के कुछ स्मार्टफोन्स में ई-सिम सपोर्ट की सुविधा दी गई है। जो एप्पल स्मार्टफोन ई-सिम सपोर्ट करते हैं उनमें- iPhone XR, iPhone XS, iPhone XS Max, iPhone 11, iPhone 11 Pro, iPhone 11 Pro Max, iPhone SE (2020), iPhone 12 mini, iPhone 12, iPhone 12 Pro, और iPhone 12 Pro Max शामिल हैं।

इसी तरह गूगल के Pixel 3, Pixel 3 XL, Pixel 3a, Pixel 3a XL, और Pixel 4a स्मार्टफोन में ई-सिम का फीचर मिलता है। इसके अलावा Samsung Galaxy Z Flip, Samsung Galaxy Fold, Samsung Galaxy Note 20 Ultra 5G, Samsung Galaxy Note 20, Samsung Galaxy Z Fold 2, Samsung Galaxy S21 5G, Samsung Galaxy S21+ 5G, Samsung Galaxy S21 Ultra 5G, Motorola Razr, और Motorola Razr 5G में भी ई-सिम का फीचर है।