उत्तराखंड

किसान आंदोलन के चलते उत्तराखंड के चार जिलों में हाई अलर्ट, तराई के किसानों की आंदोलन में भागीदारी से चिंता

किसान आंदोलन ट्रैक्टर रैली के दौरान दिल्ली में हुई हिंसक घटनाओं के बाद, उत्तराखंड के चार जिलों को भी हाई अलर्ट पर रखा गया है। इधर, पुलिस को इस बात की भी आशंका है कि यदि आंदोलन लंबा चला तो कुंभ मेले पर भी इसका असर पड़ सकता है। दिल्ली में चल रहे किसान आंदोलन में यूएसनगर तराई क्षेत्र के किसानों की भी अच्छी खासी भागीदारी है। इसके साथ ही हरिद्वार, देहरादून, नैनीताल के जिलों के किसान भी आंदोलन को समर्थन दे रहे हैं। इस कारण दिल्ली की घटना के बाद पुलिस ने इन चार जिलों में पुलिस प्रमुखों को विशेष सतर्कता बरतने को कहा है।

खासकर किसानों की दिल्ली वापसी के बाद हालात पर नजर बनाए रखने को कहा गया है। इधर, पुलिस को इस बात की भी आशंका है कि यदि आंदोलन लंबा चला तो हरिद्वार कुंभ मेला में कानून व्यवस्था के लिहाज से अतिरिक्त सुरक्षा प्रबंध करने पड़ सकते हैं। कारण आंदोलन प्रभावित क्षेत्र से बड़ी संख्या में श्रद्धालु स्नान के लिए हरिद्वार आते हैं। डीजीपी अशोक कुमार के मुताबिक उत्तराखंड में अभी स्थिति सामान्य बनी हुई हैं। आगे भी पुलिस हर स्थिति से निपटने के लिए तैयार है।