उत्तराखंड

कोरोना की जंग में जिला मुख्यालयों में कोविशील्ड की सप्लाई शुरू, जानें जिलेवार टीकों की संख्या

उत्तराखंड में कोरोना को मात देने के लिए पहुंची कोविशील्ड वैक्सीन को अब जिला मुख्यालयों में सप्लाई किया जा रहा है। वैक्सीन की सप्लाई के दौरान केंद्र सरकार की गाइडलाइन्स का पूरा पलान किया गया है। राज्य में 16 जनवरी से कोरोना टीकाकरण का अभियान शुरू हो रहा है। इसके लिए प्रदेश में कोविशील्ड वैक्सीन की 1.13 लाख खुराक राजधानी देहरादून बुधवार पहुंच गई थी। स्वास्थ्य विभाग ने 15 जनवरी तक राज्य के सभी बूथों पर वैक्सीन उपलब्ध कराने का लक्ष्य रखा है।  अभियान के पहले दिन राज्य में कुल 43 बूथ पर टीकाकरण किया जाना है। इसके लिए बूथों का चयन हो चुका है। ज्यादा आबादी वाले देहरादून, हरिदवार, यूएस नगर और नैनीताल जिलों में चार- चार बूथ पर टीकाकरण किया जाएगा। जबकि अन्य जिलों में तीन या दो बूथ पर टीकाकरण किया जाना है।

राज्य में पहले चरण में कुल 87 हजार के करीब स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण होगा। इनमें से पचास प्रतिशत लोगों के लिए राज्य में वैक्सीन पहुंच चुकी है। जिन लोगों को वैक्सीन लगेगी उन्हें  पोर्टल के जरिए मैसेज भेजे जाएंगे जिसमें बूथ और टीकाकरण के दिन की जानकारी दी जाएगी। उसी के अनुरूप टीकाकरण बूथ पर पहुंचने के लिए कहा गया है। राज्य के कुछ इलाकों में नेटवर्क की समस्या को देखते हुए अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं कि यदि नेटवर्क उपलब्ध नहीं होता तो कोविन पोर्टल पर ऑफ लाइन काम किया जाएगा।

पहले चरण में राज्य में मेडिकल कॉलेज और बड़े अस्पताल के कर्मचारियों को टीके लगाए जाने हैं। राज्य में टीकाकरण की नोडल अफसर सोनिका ने बताया कि टीकाकरण की सभी तैयारियां पूरी की जा चुकी हैं। एक दो दिन में हर बूथ पर वैक्सीन पहुंच जाएगी। राज्य में स्वास्थ्य कर्मियों के बाद दूसरे चरण में पुलिस कर्मियों, कोरोना ड्यूटी में लगे राजस्व कर्मियों और नगर निकायों के सफाई कर्मियों का टीकाकरण किया जाएगा। केंद्र सरकार ने राज्य को यह जानकारी देते हुए इन सभी वर्गों के कर्मचारियों का ब्योरा मांगा है। पहले चरण में 16 जनवरी से स्वास्थ्य कर्मियों का टीकाकरण होना है।