उत्तराखंड

कोरोना: लॉकडाउन में 318 लोगों पर दर्ज मुकदमे होंगे वापस,सरकार को भेजा प्रस्ताव

लॉकडाउन के दौरान अवैध आवाजाही करने वाले प्रवासियों पर दर्ज मुकदमे वापस होंगे।  पुलिस मुख्यालय ने ऐसे 318 लोगों को चिह्नित किया है। इसका प्रस्ताव सरकार को भेजा जा रहा है।

डीजी कानून व्यवस्था अशोक कुमार ने बताया लॉकडाउन के दौरान ज्यादातर गरीब तबके के लोग अवैध तरीके से राज्य से बाहर जाते पकड़े गए या राज्य में आकर पकड़े गए।

इनके खिलाफ लॉकडाउन के उल्लंघन, आपदा प्रबंधन एक्ट और महामारी एक्ट में मुकदमे दर्ज हुए। कुछ समय पूर्व सुप्रीम कोर्ट ने राज्य सरकारों को ऐसे लोगों पर दर्ज मुकदमे वापस लेने का अधिकार दे दिया।

ऐसे में हमने भी राज्यभर में ऐसे लोगों का चिह्नीकरण किया। करीब 318 गरीब मजदूर या अन्य निचले तबके के लोगों पर ये मुकदमे दर्ज हैं।

उन्होंने अपनी मजबूरी या जरूरत के चलते छिपते छिपाते आवाजाही की कोशिश की। ऐसे में इनके मुकदमे वापस लेने पर विचार किया जा सकता है।

318 प्रवासियों को चिह्नित किया गया है।  इनके मुकदमे वापिस लेने का प्रस्ताव सरकार को भेजा जा रहा है। सरकार के स्तर से ही मुकदमे वापसी का फैसला होना है।