उत्तराखंड

चमोली हादसा: तपोवन सुरंग से अब तक 53 शव बरामद, बचाव कार्य जारी

उत्तराखंड में चमोली की तपोवन सुरंग से अब तक कुल 53 लोगों के शव बरामद किए जा चुके हैं, राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल ने इन आंकड़ों की पुष्टि की है। एक सप्ताह बीत जाने के बाद भी बचाव कार्य जारी है और कम से कम 154 लोग अब भी लापता हैं। तबाही होने के तुरंत बाद से लोगों को बचाने का हर संभंव प्रयास किया जा रहा है।

बीते कई दिनों से लगातार लोगों को बचाने का काम जारी है लेकिन मलबा इतनी ज्यादा तादाद में जमा है कि काम की गति धीमी है। 7 फरवरी को उत्तराखंड में आई तबाही ने कई लोगों की जान लेली। कई परिवार तबाह हो गए। सैलाब में पुल बह जाने की वजह से कई गांव भी जिले से कट गए जिन्हें पुल बनाकर फिर से जोड़ने का काम भी किया जा रहा है।

चमोली की जिला मजिस्ट्रेट स्वाति एस भदौरिया ने रविवार को कहा, “सुबह में 125-130 मीटर की दूरी तक मलबे को साफ करने के बाद सुरंग के अंदर दो शव बरामद किए गए। इसके बाद, रविवार दोपहर तक तीन और शव बरामद किए गए।”

किसी के जीवित मिलने की स्थिति में उसके इलाज के लिए सभी इंतजाम किए गए हैं। भदौरिया ने कहा, “प्रशासन ने सात एम्बुलेंस और एक हेलिकॉप्टर को स्टैंडबाय पर रखा है, जब कोई भी कार्यकर्ता सुरंग से जीवित पाया जाता है।”