उत्तराखंड

ऋषिकेश में सेना के हेलीकॉप्टर ने कोरोना वॉरियर्स के सम्मान में बरसाए फूल

आज पूरे देश में कोरोना वॉरियर्स को सलामी दी जा रही है। इसी कड़ी में देवभूमि की गंगा नगरी ऋषिकेश में भी सेना के हेलीकॉप्टर से कोरोना वॉरियर्स के सम्मान में आसमान से फूल बरसाए गए। कोरोना वायरस संक्रमण के खिलाफ फ्रंटलाइन वर्कर के रूप में काम कर रहे चिकित्सकों की हौसला अफजाई और स्वागत के लिए भारतीय सेना के हेलीकॉप्टर ने अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान ऋषिकेश के ऊपर पुष्प वर्षा की। एम्स के चिकित्सकों सुरक्षाकर्मी व अन्य स्टाफ इन यादगार पलों के गवाह बने।

एम्स के निदेशक प्रोफेसर रविकांत ने कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण के खिलाफ एम्स और उसकी पूरी टीम मजबूती के साथ खड़ी है। हम हर परिस्थिति का सामना करने को तैयार हैं। उन्होंने कहा कि इस महामारी के खिलाफ चिकित्सक पूरे मनोयोग और समर्पण के साथ काम कर रहे हैं।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारतीय सेना ने निश्चित रूप से यह पहल करके समस्त चिकित्सकों और हेल्थ वर्कर का मनोबल बढ़ाया है।

रुड़की में फौजियों ने बैंड की धुन बजाई

जगह जगह सेनाएं अपने अपने तरीके से कोरोना योद्धाओं को सलाम कर रही हैं। रुड़की में बंगाल इंजीनियर्स ने कोरोना योद्धाओं के सम्मान में बैंड की धुन बजाई।  इस दौरान सेना के अधिकारियों की ओर से रुड़की शहर के दोनों कोतवालों को भी सम्मानित किया गया। बैंड की धुन को सुन हर कोई मस्ती में झूम उठा। बताते चलें कि लॉकडाउन के चलते बंगाल इंजीनियर ग्रुप एंड सेंटर को पूरी तरह से बंद कर दिया गया है। बाहरी आवाजाही पर पूरी तरह से प्रतिबंध किया गया है। कुछ लोगों को सेंटर के अंदर बुलाया गया था।