उत्तराखंड

उत्तराखंड में मिले 23 कोरोना पॉजिटिव, 1066 हुए संक्रमित

उत्तराखंड में आज बुधवार को कोरोना के 23 नए मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही राज्य में अब कोरोना संक्रमितों संख्या 1066 हो गई है।  स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी हेल्थ बुलेटिन में सबसे ज्यादा हरिद्वार में 09 मामले सामने आए हैं। जबकि, देहरादून में 08, चमोली में 04 और पौड़ी व नैनीताल जिले में एक-एक कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं।

मरीजों के मिलने के बाद अब स्वास्थ्य विभाग संक्रमितों के सपंर्क में आए संदिग्धों की तलाश करने में जुट गया है। संदिग्ध मरीजों की पहचान कर उन्हें क्वारंटाइन किया जाएगा।  देहरादून में एक निजी अस्पताल की महिला डॉक्टर, दून अस्पताल की महिला स्टाफ नर्स और महिला गार्ड में भी कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है।

प्रदेश में अब तक सबसे ज्यादा कोरोना के मामले 284 नैनीताल जिले में मिले हैं। जबकि, दूसरे नंबर पर 244 संक्रमितों के साथ देहरादून जिला दूसरे नंबर पर है। टिहरी जिला 91 कोरोरा मरीजों के साथ तीसरे नंबर पर है।

इधर मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह ने कहा कि राज्य में कोरोना की स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में है। उन्होंने कहा कि राज्य में एक करोड़ से अधिक की आबादी पर महज एक हजार के करीब केस हैं।

उन्होंने कहा कि सरकार की कोरोना से लडाई की तैयारी पूरी है और मरीजों की संख्या बढ़ने को देखते हुए तैयारियां की गई हैं। उन्होंने बताया कि संस्थागत क्वारंटाइन के लिए 14 हजार बेड आरक्षित किए गए हैं।

उन्होंने बताया कि राज्य में मरीजों के ठीक होने की दर 24 प्रतिशत से अधिक हो गई है। जबकि मरीज दोगुना होने की दर छह दिन हो गई है। कोरोना संक्रमण दर राज्य में चार प्रतिशत के करीब पहुंच गई है। राज्य में कुल 38 कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं।

राज्य के अधिकांश पर्वतीय जिले पहला मरीज मिलने के दो महीने बाद तक   ग्रीन जोन में थे। लेकिन 24 मई के बाद पर्वतीय जिलों में मरीजों के पॉजिटिव आने से तस्वीर बदल गई और सभी जिले ऑरेंज श्रेणी में आ गए। अब मैदान के साथ ही पहाड़ के जिलों में भी तेजी से मामले बढ़ रहे हैं। जिससे सरकार की चुनौती बढ़ रही है।